गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाए जाने का विरोध

खबर शेयर करें

देहरादून। दिल्ली के ऐतिहासिक जंतर मंतर पर आज उत्तराखंड कांग्रेस के उपाध्यक्ष एव पूर्व मंत्री धीरेन्द्र प्रताप और उत्तराखंड आन्दोलनकारी समन्वय समिति के अध्यक्ष देवसिंह रावत के नेतृत्व मे गैरसैंण को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द रावत द्वारा ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाए जाने के विरोध मे त्रिवेन्द सरकार का पुतला दहन किया। धीरेंद्र प्रताप ने इस मौके पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत पर उत्तराखंड की एक करोड़ जनता की जन आकांक्षाओं की हत्या करने का आरोप लगाते हुए कहा कि उत्तराखंड के 50 से अधिक शहीदों और उत्तराखंड के तमाम राज्य आंदोलनकारियों ने गैरसैण को उत्तराखंड की स्थाई राजधानी बनाने का सपना लेकर शहादते दी थी, लेकिन अफसोस की बात है मुख्यमंत्री ने एक तरफा फैसला करके उत्तराखंड की जन आकांक्षाओं को कुठाराघात पहुंचाया है।

इस मौके पर धीरेंद्र प्रताप और देव सिंह रावत समेत मौके पर मौजूद आंदोलनकारियों ने शपथ ली जब तक शहीदों के सपनों के अनुसार उत्तराखंड की स्थाई राजधानी गैरसैंण को नहीं बनाया जाता तब तक वह लोग अपना आंदोलन जारी रखेगे। इस मौके पर राष्ट्रीय लोकदल के महासचिव मनमोहन शाह, हीरो बिष्ट, हुकुम सिंह कण्डारी, सुनील चौहान, सुनील सिंह, रामजी लाल शुक्ला समेत अनेक लोग मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *