30 मीटर रोड धंसने से व्यापारियों में मची अफरातफरी

खबर शेयर करें

देहरादून। पलटन बाजार में स्मार्ट सिटी के काम के दौरान 30 मीटर रोड धंसने से व्यापारियों में अफरातफरी मच गई। गुस्साए व्यापारियों ने जिलाधिकारी से मुलाकात कर आक्रोश जताया। साथ ही चेतावनी दी यदि निर्माण कार्य के दौरान कुछ नुकसान हुआ तो वह आंदोलन करेंगे। स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत पलटन बाजार में कोतवाली के पास अंडरग्राउंड बिजली, सीवर, पेयजल लाइन आदि डालने के लिए सड़क खोदी जा रही है। सोमवार सुबह वहां 30 मीटर सड़क धंस गई। व्यापारियों के मुताबिक तड़के पहुंची ठेकेदार की ट्रॉली गड्ढे में गिर गई, जिसे क्रेन की मदद से बाहर निकाला। जबकि तीन दिन पहले यहीं पर एक स्कूटी भी गिर चुकी है। इस पर व्यापारियों ने काम रुकवाया और सीधे जिलाधिकारी डॉ. आशीष कुमार श्रीवास्तव से मिलने पहुंचे। उन्होंने बताया कि पांच दिन के भीतर बीच में खोदी गई सड़क दोनों ओर से गिर रही है। इससे व्यापारी और अन्य लोगों को परेशानी हो रही है। जिलाधिकारी ने व्यापारियों को आश्वासन दिया कि उन्हें परेशानी नहीं होने देंगे। डीएम के निर्देश पर 10 मीटर गड्ढे को भर दिया गया। इस दौरान व्यापारियों ने कहा कि स्मार्ट सिटी का काम व्यापारियों के लिए मुसीबत बना हुआ है। व्यवसाय एकदम ठप हो गया है। स्मार्ट सिटी के काम के चलते दुकानदारों का व्यवसाय प्रभावित हो रहा है। मौके पर मजबूत बोर्ड लगाने चाहिए, ताकि दुर्घटनाएं न हों। सभी चाहते हैं कि पलटन बाजार को स्मार्ट बनाया जाए। व्यापारी स्मार्ट सिटी के काम को पूरा सपोर्ट कर रहे हैं। लेकिन, व्यापारी को राहत मिलनी चाहिए।
स्मार्ट सिटी के तहत 13.10 करोड़ रुपये से पलटन बाजार का रूप-रंग बदला जाएगा। बाजार को पर्यटक स्थल के तौर पर भी विकसित करने की योजना है। बाजार की सभी दुकानों को एक रंग में रंगा जाएगा। दुकानों को अलग-अलग नंबर दिए जाएंगे। पैदल चलने वाले लोगों के लिए बेहतर फुटपाथ तैयार किए जाएंगे। बाजार को एक टूरिस्ट डेस्टिनेशन के तौर पर विकसित किया जाएगा। बाजार की 476 मीटर सड़क नए सिरे से बनेगी। विद्युत और टेलीफोन लाइनों को मल्टी यूटिलिटी डक्ट बनाकर शिफ्ट किया जाएगा। सुबह सात से रात 10 बजे तक बाजार में दो एवं चार पहिया वाहनों का प्रवेश पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगा। इसके अलावा दिव्यांगों, बुजुर्गों आदि के लिए गोल्फकार्ट चलाई जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *