सीडीओ की अध्यक्षता वाली समिति करेगी कार्यों की जांच व भौतिक सत्यापन

खबर शेयर करें

डीएम ने दिये जांच आख्या शीघ्र उपलब्ध कराने के निर्देश

नैनीताल। वित्तीय वर्ष में जिला योजना, राज्य सैक्टर एवं नाबार्ड के अन्तर्गत सिंचाई विभाग व पेयजल निगम द्वारा किये गये कार्यों की जांच, भौतिक एवं वित्तीय सत्यापन किया जायेगा। यह जानकारी देते हुए जिलाधिकारी सविन बंसल ने बताया कि कार्यों की जांच हेतु मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय टीम गठित की है जिसमें मुख्य विकास अधिकारी के साथ जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी व अधीक्षण अभियंता ग्रामीण निर्माण निगम होंगे।
जिलाधिकारी ने बताया कि जांच टीम द्वारा सिंचाई विभाग खण्ड नैनीताल द्वारा जिला योजना मद से रामगढ़ विकासखण्ड में 49 लाख की धनराशि से निर्मित 11 सिंचाई टैंकों, विकासखण्ड बेतालघाट में 62.80 लाख की धनराशि से निर्मित रतोड़ा टेल गूल, अपर लैफ्ट कोसी तथा ग्राम च्योनी में सिंचाई टेंक निर्माण, विकासखण्ड कोटाबाग में एससीएसपी मद से 49.10 लाख की धनराशि से धापला नहर के हैड के जीर्णोद्धार कार्य, बेतालघाट में 54 लाख की लागत से 4.90 किमी नहरों के पुनरोद्धार कार्य व विकासखण्ड बेतालघाट के बबास में 48.10 लाख की लागत से सिंचाई गूलों के निर्माण एवं लद्दासी, कटीमी, सेठी भण्डार माईनर के पुनरोद्धार कार्यों की जांच एवं वित्तीय व भौतिक सत्यापन किया जायेगा। उन्होंने बताया कि इसी प्रकार सिंचाई विभाग द्वारा राज्य सैक्टर एवं नाबार्ड योजना से विकासखण्ड कोटाबाग में 295.51 लाख की लागत से कोसी नदी के बायें तट पर ग्राम कुनखेत की बाढ़ सुरक्षा कार्य, विकासखण्ड बेतालघाट के अन्तर्गत 566.91 लाख की लागत से मझेड़ा, पाडली एवं ओजीकुलों में नहरों के पुनरोद्धार एवं ओडावास्कोट में सिंचाई टैंको के निर्माण कार्यों, विकासखण्ड बेतालघाट के अन्तर्गत 232.91 लाख की धनराशि से शिप्रा नदी में कैंची धाम के पास जड़मिला झूला पुल के समीप खैरना-धनियाकोट मोटर मार्ग के अप स्टीम में बाये पाश्र्व पर तथा कोसी नदी में ग्राम आमबाड़ी एवं रौलिया गाॅव की बाढ़ सुरक्षा कार्यों, विकासखण्ड बेतालघाट में ही 826.34 लाख की धनरशि से 62.60 किमी नहरों के पुनरोद्धार एवं 11 सिंचाई टैंको, बेतालघाट विकासखण्ड में 564.38 लाख की लागत से 17.14 किमी लम्बी नहरों के पुनरोद्धार कार्य के साथ ही ओखलकाण्डा व भीमताल विकासखण्डों में 350.09 लाख की धनराशि से 44.09 किमी सिंचाई नहरों के पुर्नरूद्धार कार्यों की वित्तीय एवं भौतिक सत्यापन कार्य एवं जांच की जायेगी। 

जिलाधिकारी ने बताया कि निर्माण शाखा पेयजल निगम भीमताल द्वारा जिला योजना के अन्तर्गत 134.39 लाख की लागत से बकुलिया सकुलिया (रोडी खत्ता) मिनी नलकूप पेयजल योजना, 148.21 लाख की लागत से मुखानी ओमविहार के पास मिनी ट्यूबवेल के निर्माण, 120 लाख की लागत से हरिपुर जमन सिंह पेयजल योजना, 78.31 लाख से ढाकाखेत-सड़ियाताल पेयजल योजना, एससीपी के अन्तर्गत 89 लाख की धनराशि से गेठिया पेयजल योजना के सोर्स आगुल्मेंटेशन कार्यों की भौतिक एवं वित्तीय सत्यापन व जाॅच टीम द्वारा की जायेगी।

इसके साथ ही पेयजल निगम द्वारा राज्य सैक्टर एवं नाबार्ड योजना के अन्तर्गत 254.77 लाख से देवलचौड़ बन्दोबस्ती पेयजल योजना, 397.88 लाख से हरिपुर पूर्णानन्द पेयजल योजना, विकासखण्ड हल्द्वानी में मुख्यमंत्री घोषणा के अन्तर्गत 751.30 लाख की लागत से 8 नलकूपों के निर्माण कार्य, 199.25 लाख से छड़ायल सुयाल (निलीयम काॅलोनी) पेयजल योजना कार्यों तथा 282.03 लाख से मिर्मित तल्ली बमोरी बन्दोबस्ती पेयजल योजना कार्यों की भौतिक एवं वित्तीय सत्यापन जांच, मूल्यांकन किया जायेगा। उन्होंने जांच टीम को निर्देश दिए कि वे कार्यों का गहनता से भौतिक, वित्तीय सत्यापन एवं मूल्यांकन करते हुए अपनी जांच आख्या अतिशीघ्रता से उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *