टीडीएस से सम्बन्धित जागरूकता अभियान हेतु विस्तृत जानकारियां दी

खबर शेयर करें

हल्द्वानी। संयुक्त आयकर आयुक्त (टीडीएस) देहरादून उत्तराखण्ड द्वारा स्रोत पर आयकर कटौती टीडीएस के सम्बन्ध मे एक महत्वपूर्ण कार्यशाला का आयोजन गुरूवार को एमबीपीजी कालेज मे किया गया।

कार्यशाला में उत्तराखण्ड शासन के अधीन उच्च शिक्षा निदेशालय मे कार्यरत कुमायू रीजन के सभी  आहरण एवं वितरण अधिकारियों को टीडीएस से सम्बन्धित जागरूकता अभियान हेतु विस्तृत जानकारियां दी गई। सेमीनार में आयकर कटौती के लगभग 150 आहरण एवं वितरण अधिकारियों नेे प्रतिभाग किया। कार्यशाला में स्रोत पर आयकर कटौती से सम्बन्धित आयकर के विभिन्न प्रावधानोें तथा आयकर कटौती न करने या कम करने पर व टीडीएस स्टेटमैंट फाइल न करने पर क्या-क्या दंडनीय कार्यवाही की जा सकती है एवं कौन-कौन सी पेनाल्टी का  प्रोविजन है इस के बारे में विस्तृत रूप से बताया गया। इस सेमिनार मे बजट मे जो विवाद से विश्वास स्कीम 2020 घोषित हुई थी उस पर चर्चा पर विस्तार से बताया गया। इस स्कीम की चर्चा उत्तराखण्ड  मे सर्वप्रथम इसी सेमीनार से हुई। इस सेमिनार का मुख्य उददेश्य यह है कि यह स्कीम ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुचे और जिनके भी प्रत्यक्ष कर सम्बन्धित केस चल रहे हों उनका शीघ्र समाधान हो सके। इस दूरगामी परिणाम यह होगा कि सरकार को समय से कर प्राप्ति होगी एवं अदालतोें मे विभिन्न चरणों मे चल रहे लम्बित विवादों के शीघ्र निस्तारण मे सहायता मिलेगी इससे सरकार एवं कर निर्धारिती दोनो को ही राहत मिलेगी।
सेमीनार मेें पिछले वर्ष के बजट तथा इस वर्ष के बजट मे सम्मिलत टीडीएस के नये प्रावधानों जो कि वित्त वर्ष 2019-20 मे सम्मिलित किये गये है के विषय मे विस्तृत जानकारी दी गई। इस सेमिनार में टीडीएस से सम्बन्धित समस्याओं और उनके निवारण के सम्बन्ध में प्रश्न भी पूछे गये जिनका संतोषजनक उत्तर दिया गया। सेमिनार में उपस्थित सभी आहरण एवं वितरण अधिकारियों/कर्मचारियो ने आयकर विभाग टीडीएस से यह अनुरोध किया कि इस तरह के सेमिनार भविष्य मे समय-समय पर आयोजित होने चाहिए जिससे कि स्रोत पर कटौती से सम्बन्धित जानकारियां मिलेगी।  
इस सेमिनार का आयोजन संयुक्त आयकर आयुक्त (टीडीएस) लियाकत अली आफाकी की अध्यक्षता मे सम्पन्न किया गया। सेमीनार मे सहायक आयकर आयुक्त शशि प्रभा सक्सेना, आयकर अधिकारी पीसी राणा, आयकर निरीक्षक प्रकाश चन्द्र उपाध्याय, सरोज पंत, कर सहायक धमेन्द्र , कमल मीणा आदि ने प्रतिभाग किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *