एसटीएफ के हाथ लगी बड़ी सफलता, 31 किलो चरस के साथ चार तस्कर गिरफ्तार

खबर शेयर करें

हल्द्वानी। एसटीएफ के हाथ एक बड़ी सफलता लगी है। टीम ने चार तस्करों को गिरफ्तार किया है। उनके पास से 31 किलो चरस बरामद की गई है। पकड़ी गई चरस दिल्ली ले जाने की योजना थी। एसटीएफ के हाथ इस कारोबार से जुड़ी अहम जानकारियां लगी हैं। तस्करी में प्रयुक्त वाहनों को सीज कर दिया गया है। जबकि तस्करों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्यवाही की गई है।

एसटीएफ की कुमाऊं यूनिट ने मुखबिर की सूचना पर पंतनगर थाना क्षेत्र में आने वाले टांडा तिराहे के पास चैकिंग कर रही थी कि तभी कैंटर संख्या यूके 04सीबी-5197 व बाइक संख्या यूके 06एक्यू-8291 को रोका गया। जांच में कैंटर से 31 किलो चरस बरामद की गई। इस पर टीम ने मौके से सुंदर सिंह पुत्र स्व. चंदन सिंह निवासी ग्राम धनौरा बिलासपुर, संग्राम सिंह उर्फ संतोष पुत्र नेत्र सिंह निवासी ग्राम चन्दैन बिलासपुर, विशाल कक्कड़ पुत्र अशोक कुमार निवासी नरपतनगर रूद्रपुर व नंदन सिंह बिष्ट पुत्र बहादुर सिंह निवासी ग्राम जोलपोखरा, पहाड़पानी मुक्तेश्वर को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में पकड़े गये तस्करों ने बताया कि वह उक्त चरस को ग्राम झूनी थाना कपकोट बागेश्वर में रहने वाले नरेंद्र सिंह नामक सख्स से 35 हजार रूपये प्रति किलो के हिसाब से खरीद कर लाये हैं और उसे दिल्ली में राजेश, राजेश नेपाली व लाला आदि को 50 हजार रूपये प्रति किलो के हिसाब से बेचने वाले थे। उक्त चरस को बागेश्वर से रूद्रपुर लाने के लिए कैंटर चालक को तीन हजार रूपये प्रति किलो के हिसाब से भाड़ा दिया जाता है।

पकड़े गये तस्करों में से सुंदर सिंह ने बताया कि वह दिसम्बर माह में भी 12 किलो चरस की खेप दिल्ली में खपा चुके हैं। वह पूर्व में पुलिस के हाथ से कई बार बच चुके हैं। पूछताछ में पकड़े गये तस्करों से एसटीएफ के हाथ कुछ अहम सुराग लगे हैं। इन जानकारियों के आधार पर एसटीएफ की टीम अन्य तस्करों की गिरफ्तारी के प्रयास कर रही है। सफलता प्राप्त करने वाली टीम को पुलिस उप महानिरीक्षक एसटीएफ रिद्धिम अग्रवाल ने पांच हजार रूपये का ईनाम देने की घोषणा की है। पकड़े गये तस्करों के खिलाफ पंतनगर थाने में एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया है। जबकि वाहनों को सीज कर दिया गया है। सफलता प्राप्त करने वाली टीम में एसटीएफ निरीक्षक एमपी सिंह, एसआई विनोद चन्द्र जोशी, बृजभूषण गुरूरानी, हेड कांस्टेबल बाबू खान, कांस्टेबल गोविन्द सिंह बिष्ट, सुरेंद्र सिंह कनवाल, महेंद्र गिरी, गुरवंत सिंह, राजेंद्र सिंह महरा, जय सिंह शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *