लॉक डाउन के बीच अन्नदाताओं के लिए अच्छी खबर

खबर शेयर करें

हल्द्वानी। कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने के लिए लागू लॉक डाउन के बीच अन्नदाताओं के लिए अच्छी खबर है। अब वह अपनी फसलों की देखरेख कर सकेंगे। इसके लिए शासन के निर्देश के क्रम में जिला प्रशासन ने अनुमति प्रदान कर दी है। इस निर्णय के बाद कृषि सेवा से जुड़े वाहन भी लॉक डाउन के बीच संचालित हो सकेंगे।

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच लागू लॉक डाउन के बाद अन्नदाता अपनी फसलों को लेकर चिन्तित हो गये थे। इससे उन्हें फसलों के खराब होने की चिन्ता सताने लगी थी। इस बीच जिलाधिकारी सविन बंसल ने कहा है कि अप्रैल माह में कृषि फसलों की कटाई का कार्य प्रारम्भ होना है। शासन के निर्देशों के क्रम में कटाई कार्य में प्रयोग में होने वाले कृषि यन्त्र कम्बाइन, स्ट्ररीपरव ट्रैक्टर-ट्राली तथा औद्यानिक बागों में कीटनाशक के छिड़काव हेतु ट्रैक्टर चालित स्प्रे मशीन के परिवहन की अनुमति प्रदान की जाती है। उन्होंने कहा कि कम्बाइन मशीन के साथ अधिकतम तीन श्रमिक ही रहेंगे। साथ ही उन्हें बार-बार घर से आने-जाने की अनुमति नहीं होगी। श्रमिकों के रहने की व्यवस्था कार्य स्थल पर ही अनिवार्य रूप से करनी होगी।

श्री बंसल ने कहा कि फसल कटाई के उपरान्त गेहूं कृषक अपने निवास अथवा गोदाम में भंडारण करेंगे। बीज उत्पादन हेतु उत्पादित गेहूं, मसूर, चना को सम्बन्धित बीज विघंयन संयंत्र तक ले जाने की भी अनुमति होगी। उन्होंने कहा कि निर्धारित नमी मानक के अनुसार गेहूं क्रय करने हेतु व्यवस्था पृथक से की जा रही है। जो कृषक आटा मिल में गेहूं आपूर्ति करना चाहते हैं, उनको आटा मिल तक परिवहन करने की अनुमति भी दी जाती है। उन्होंने कृषि फसलों के मैनुअल कटाई, निराई-गुड़ाई, कीटनाशकों का छिड़काव, काटाई आदि कार्यों हेतु श्रमिकों की व्यवस्था ग्राम स्तर से ही करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने कहा कि अनुमति इन निर्देशों के साथ दी जाती है कि श्रमिकों का कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु दिन में नियमित रूप से साबुन से हाथ साफ करने एवं पीने-खाने की व्यवस्था पृथक से करने श्रमिकों हेतु मास्क, सेनिटाइजर की व्यवस्था के साथ ही उनके मध्य कम से कम 3 मीटर का फासला रखना सुनिश्चित करेंगे।

उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि समय-समय पर कोरोना के बचाव हेतु भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशो का परिपालन करना भी सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने उप जिलाधिकारियों व सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक निर्देशों का अनुपालन कराते हुये गेहूं कटान कार्य प्रारम्भ कराने को कहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *