विकासनगर क्षेत्र में लौटे 20 लोगों को किया होम क्वारंटीन

खबर शेयर करें

देहरादून। देशभर में हुई विभिन्न जमातों में शामिल होकर देहरादून जिले के विकासनगर क्षेत्र में लौटे 20 लोगों को होम क्वारंटीन किया गया है। ये सभी जमाती 15 मार्च से पूर्व क्षेत्र में दाखिल हुए थे। वर्तमान में सभी पूरी तरह से ठीक हैं। तहसील प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जमनीपुर में 15, बैरागीवाला में एक, बरोटीवाला में एक और केदारवाला गांव में तीन लोगों को होम क्वारंटीन किया। बरोटीवाला का युवक जगाधरी हरियाणा की जमात में शामिल होने के बाद निजामुद्दीन में तब्लीगी जमात में भी शमिल हुआ था। वह 24 दिन पूर्व वापस लौटा था।
अपर स्वास्थ्य निदेशक डॉ. केके शर्मा ने बताया कि प्रशासन की ओर से उपलब्ध कराई गई सूची के आधार पर जमात से लौटे सभी लोगों की स्वास्थ्य जांच की जा रही है। मामला संदिग्ध प्रतीत होने पर लोगों को आइसोलेशन वॉर्ड में शिफ्ट भी किया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग की टीम सभी लोगों पर पूरी तरह से नजर बनाए हुए हैं। विभाग की टीम बीते दो दिन से लगातार अभियान चला मस्जिदों और आसपास के घरों में रहने वाले जमातियों की जांच कर रही है। अब तक 56 से अधिक जमातियों को आइसोलेट और होम क्वारंटीन किया गया है। वहीं, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चकराता के प्रभारी डॉ. केशर चौहान ने बताया कि क्षेत्र के हाजा और डाडवा गांव में भी दिल्ली क्षेत्र से पहुंचे दो युवकों को 14 दिन के लिए होम क्वारंटीन किया गया है।
मार्च में हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जनपद में जमात कर लौटे 13 लोगों को प्रशासन ने क्वारंटीन कर दिया है। वहीं, टिहरी जिले में तीन, चमोली में तीन और रुद्रप्रयाग में एक व्यक्ति को क्वारंटीन किया गया है। पुरोला के एसडीएम प्रशिक्षु आईएएस मनीष कुमार ने बताया कि देश के विभिन्न हिस्सों में जमात से लौटे कई लोगों के कोरोना संक्रमित पाए जाने पर प्रशासन विशेष सतर्कता बरत रहा है। मोरी के भंक्वाड़, कुकरेड़ा एवं बेगल गांव से कुछ लोग जमात के लिए हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जनपद गए थे। वहां से ये लोग 18 मार्च को गांव लौटे थे। उधर, थानाध्यक्ष प्रदीप रावत ने बताया कि उत्तर प्रदेश के नगीना बिजनौर से तीन युवक टिहरी जिले के सैण मंदार गांव पहुंचे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मेजर सिंह, निवासी ग्राम अब्दुलाबाद बिजनौर, शकील अहमद, सहवेज दोनों निवासी मकान नंबर 536 कालान नगीना बिजनौर को पूछताछ के लिए थाने ले आई। तीनों युवकों ने बताया कि वे सब्जी बेचने के लिए यहां आए थे। पुलिस ने वाहन सीज कर तीनों युवकों का स्वास्थ्य परीक्षण कर उन्हें 14 दिन के लिए जीएमवीएन बौराड़ी में क्वारंटीन कर लिया है। उधर, गोपेश्वर में शादाब निवासी नैग्वाड़, गोपेश्वर कोटद्वार से तेल के टैंकर से गौचर पहुंचा। इसके बाद वह 15 किमी. पैदल चलकर गोपेश्वर पहुंचा। थानाध्यक्ष सतेंद्र नेगी ने बताया कि शादाब को मंडल में क्वारंटीन किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *