डिसीजन सर्पोट सिस्टम के बारे में दी जानकारी

खबर शेयर करें

अल्मोड़ा । उत्तराखण्ड राज्य आपदा प्रबन्धन देहरादून के तत्वाधान में डिसीजन सर्पोट सिस्टम के सम्बन्ध में एक दिवसीय कार्यशाला कलेक्ट्रेट के नवीन सभागार में आयोजित की गयी। कार्यशाला को सम्बोधित करते हुए आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण के तकनीकी प्रबन्धक भूपेन्द्र भैसोड़ा ने बताया कि आपदा के दौरान रेखीय विभागों के आपसी समन्वय हेतु उत्तराखण्ड राज्य आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण द्वारा डिसीजन सर्पोट सिस्टम विकसित किया गया है। यह साफ्टवेयर एआईटी थाईलैंड की तर्ज पर विकसित किया गया है। जिसे उत्तराखण्ड में भी जल्दी ही उपयोग में लाया जायेगा। इस साफ्टवेयर के माध्यम से आपदा के दौरान सम्बन्धित विभागो को त्वरित कार्यवाही करने में सहायता मिलेगी। उन्होंने बताया कि इस साफ्टवेयर में तहसील स्तर में घटित होने वाली आपदा की सूचना दैनिक आधार पर अपलोड की जायेगी जिसे समय-समय पर अपडेट किया जायेगा।
इस दौरान उन्होंने उपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों को डिसीजन सर्पोट सिस्टम के सम्बन्ध में अनेक जानकारियाॅ प्रदान की। कार्यशाला में साफ्टवेयर की क्रियाविधि व तत् सम्बन्धी अन्य प़क्षो से उपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों को अवगत कराया गया। इस दौरान सिस्टम एनालिस्ट अमित शर्मा ने भी अनेक महत्वपूर्ण जानकारियाॅ प्रदान की। इस अवसर पर जिला आपदा प्रबन्धन अधिकारी राकेश जोशी, जीआईएस एनालिस्ट उमाशंकर नेगी, नेहा रानी, आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण के भुवन काण्डपाल के अलावा अनेक विभागों के कर्मचारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *