स्वास्थ्य केंद्रों में व्यवस्थाएं दुरूस्त रखने के निर्देश

खबर शेयर करें

गरमपानी/नैनीताल। जिलाधिकारीसविन बंसल ने कस्बों के सरकारी  अस्पतालों के साथ ही जिले के दूरदराज इलाकों मे संचालित प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के निरीक्षण का भी सिलसिला शुरू कर दिया है। जिसके तहत उन्होंने गुरूवार को खैरना, गरमपानी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचकर स्वास्थ्य सेवाओं एवं व्यवस्थाओं का जायजा लिया। जिलाधिकारी  के निरीक्षण के दौरान वहां तैनात स्टाफ में हड़कम्प मचा रहा। लगभग 2 घंटे स्वास्थ्य केन्द्र में रहकर उन्होंने वहां की व्यवस्थायें परखी। जिलाधिकारी ने ओपीडी, एक्सरे कक्ष, पैथलैब, अल्ट्रासांउड कक्ष आदि का गहनता से निरीक्षण किया। चिकित्सालय का आवश्यक मरम्मत कार्य जो ग्रामीण अभियंत्रण के द्वारा किया जा रहा है, उसकी मन्द गति पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त की। मौके पर मौजूद उपजिलाधिकारी गौरव चटवाल को निर्देश दिये कि वह कार्यदायी संस्था से कार्य 15 फरवरी तक पूर्ण करायें। जिलाधिकारी ने उन्होेंने मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ भारती राणा को निर्देशित करते हुए कहा कि गरमपानी का चिकित्सालय दुर्गम पर्वतीय क्षेत्र में है तथा यह एक दुर्घटना सम्भावित जोन होने के कारण आये दिन भूस्खलन व अन्य कारणों से दुर्घटनायें होती रहती हैं, ऐसे में इस स्वास्थ्य केन्द्र की उपयोगिता बहुत अधिक है, ऐसे में सभी चिकित्सकीय सुविधायें आवश्यक दवायें स्वास्थ्य केन्द्र मे उपलब्ध रहनी चाहिए। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य केन्द्र में स्थापित पैथोलाॅजी प्रयोगशाला तथा क्षयरोग निदान प्रयोगशाला को फरवरी के अन्त तक क्रियाशील कर दिया जायेगा तथा इन दोनों प्रयोगशालाओं मे उपकरण आदि क्रय किये जाने के लिए एनएचएम से धन की व्यवस्था की जायेगी। उन्होंने पैथोलाॅजी लैब मेें प्रयोगशाला सहायक की तैनाती अविलम्ब उपनल से किये जाने के निर्देश मुख्य चिकित्साधिकारी को दिये। उन्होंने सीएमओ से कहा कि स्वास्थ्य केन्द्र के स्टाॅफ नर्स की तैनाती के लिए सचिव स्वास्थ्य को उनके ओर से पत्र प्रेषित किया जाए। उन्होंने सीएमओ से यह भी कहा कि भवाली के स्वास्थ्य केन्द्र मे तैनात बालरोग विशेषज्ञ को सप्ताह में दो दिन गरमपानी स्वास्थ्य केन्द्र मे कार्य करने के आदेश निर्गत करें। उन्होंने स्वास्थ्य केन्द्र मे रैबीज के टीकों की निरंतर व्यवस्था बनाने को भी कहा। जिलाधिकारी द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केेन्द्र सुयालबाड़ी का भी निरीक्षण किया गया। निरीक्षण दौरान उप जिलाधिकारी गौरव चटवाल, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ भारती राणा, मुख्य शिक्षा अधिकारी केके गुप्ता, अधिशासी अभियन्ता ग्रामीण अभियंत्रण विनीत कुरील, जल संस्थान संतोष उपाध्याय. एमओआईसी डॉ सतीश पंत, तहसीलदार नितेश डागर, हेम तिवारी आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *