अजीब सा प्राणी देख मचा हड़कंप

खबर शेयर करें

आज शाम चारधाम मंदिर लामाचौड़ के समीप एक दुकान में तेजी से अजीब सा जानवर घुसा चला आया जिसे देख दुकानदार वहां खड़े लोग घबरा गए उस दुकान में उस जानवर को देखने के लिए सैकड़ों की संख्या पर भीड़ जमा हो गई वन विभाग को जानकारी देने के उपरांत वन विभाग के कर्मचारी मौके पहुंच गए वन विभाग के कर्मचारी तक को यह जानकारी नहीं थी आखिर यह है क्या बाद में वन विभाग कि टीम उसको अपने साथ ले गई? हमने इसकी जानकारी निकाली जानिए नीचे इसके बारे में इसे कहते हैं सल्लू सांप

सल्लू सांप’ को सीधा करना नामु्मकिन

लाखों साल पहले लुप्त हो चुके ‘डाइनासोर’ का वंशज माने जाने वाले भारतीय पैंगोलिन भारत, श्रीलंका, नेपाल और भूटान में कई मैदानी व हलके पहाड़ी क्षेत्रों में पाया जाता है। यह पैंगोलिन की आठ जातियों में से एक है जो संकटग्रस्त माना जाता है। दूसरी पैंगोलिन जाति की तरह यह भी समूह की बजाय अकेला रहना पसंद करता है। नर-मादा केवल प्रजनन के लिए ही मिलते हैं। इनके बिलों के मुंह भुरभुरी मिट्टी से ढके होते हैं जो लगभग छह मीटर तक लंबे होते हैं। पैंगोलिन के के दांत नहीं होते और इसका पिछला हिस्सा चपटाकार होता है। कभी-कभी वे पिछले पैरों पर खड़े हो जाते हैं। अपनी रक्षा के लिए पैंगोलिन बॉल की तरह होकर लुढ़कता है। इसकी मांसपेशियां इतनी मजबूत होती हैं कि लिपटे हुए पैंगोलिन को सीधा करना बड़ा कठिन होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *