कोरोना वायरसः विदेश से आये तीन लोग कोरोन्टाइन, रोडवेज बसों से घरों को भेजे फंसे हुए लोग, हरसंभव मदद पहुंचाने में जुटा पुलिस-प्रशासन

खबर शेयर करें

हल्द्वानी। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने की हरसंभव कोशिश की जा रही है। विदेशों से आये लोगों को चिन्हित कर कोरोन्टाइन सेंटरों में रखा जा रहा है। पुलिस-प्रशासन लोगों को हरसंभव मदद पहुंचा रहा है। यहां फंसे लोगों को वाहनों की मदद से घरों को भेजा जा रहा है। मंगल पड़ाव को भी बंद कर दिया गया है। गलियों-मोहल्लों में सब्जियां उपलब्ध कराने के प्रयास किये जा रहे हैं। शुक्रवार को लॉक डाउन के बीच प्रातः 7 से अपरान्ह 1 बजे तक लोगों ने खरीददारी की। पुलिस-प्रशासन पूरी तरह चौकस दिखाई दे रहा है। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच स्वास्थ्य विभाग की कोरोना वायरस नोडल टीम ने नगर में बाहरी देशों से आये तीन लोगों की बेस चिकित्सालय में जांच कराई। तीनों को कोरोन्टाइन सेन्टर में रखा गया है। कोरोना वायरस नोडल टीम मोटाहल्दू ने हिम्मतपुर रामपुर रोड में दस दिन पूर्व अमेरिका से आये दंपत्ति की बेस चिकित्सालय में जांच कराई। इसके अलावा भोटिया पड़ाव क्षेत्र से भी सप्ताहभर पूर्व विदेश से आये एक व्यक्ति को बेस अस्पताल लाया गया। तीनों की अस्पताल में जांच कराई गई। तीनों को किट पहनाने के बाद कोरोन्टाइन सेंटर में रखा गया है। इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग की कोरोना वायरस नोडल टीमें नगर में लगातार गश्त कर रही हैं। यह टीमें बाहर से यहां आये लोगों को रडार पर लेकर उन्हें जांच हेतु अस्पतालों में पहुंचा रही है। शुक्रवार को लॉक डाउन के बीच प्रातः 7 से अपरान्ह 1 बजे तक लोगों ने खरीददारी की। लोगों ने जरूरी सामान की खरीददारी की। इस अवधि में दुपहिया वाहनों का संचालन भी जारी रहा। कुछ चौपहिया वाहन भी सड़कों में दिखाई दिये। जिन्हें पुलिस रोक कर वजह पूछती दिखाई दी। पुलिस ने कई चौपहिया व दुपहिया वाहनों के चालान भी किये। सबसे अधिक भीड़ नवीन मंडी व मंगल पड़ाव स्थित सब्जी मंडी में दिखाई ‌दी। जिसके चलते पुलिस ने नवीन मंडी से फुटकर खरीददारी पर प्रतिबंध लगाते हुए लोगों को वहां से हटा दिया। इसके बाद मंडी में सन्नाटा पसरा दिखाई दिया। इधर मंगल पड़ाव स्थित सब्जी मंडी में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया गया। अधिकारी लोगों से एक-दूसरे से दूरी बनाये रखने की अपील करते रहे। साथ ही मंगल पड़ाव सब्जी मंडी को भी अब बंद कर दिया गया है। यहां के दुकानदारों से गलियों-‌मोहल्लों में फल-स‌ब्जी की बिक्री करने के लिए कहा गया है। दोपहर एक बजते ही दुकानें बंद हो गई और सड़कों में पुनः सन्नाटा पसरने लगा। इसके बाद बेवजह किसी को भी बाहर नहीं निकलने दिया गया। एसएसपी सुनील कुमार मीणा, सिटी मजिस्ट्रेट प्रत्यूष कुमार, एसपीसिटी अमित श्रीवास्तव स्थिति का जायजा लेते रहे। मंगल पड़ाव चौकी प्रभारी कैलाश नेगी के नेतृत्व में पुलिस कर्मी जगह-जगह फंसे लोगों व पुलिस कर्मियों को चाय-भोजन इत्यादि वितरित करते रहे। साथ ही लोगों ने भी घरों से खाना लाकर यहां वितरित किया। रोडवेज स्टेशन में शुक्रवार को भी लोगों का इधर-उधर से आना लगा रहा। ‌इनमें उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्रों के अलावा उत्तर प्रदेश के बहराइच तक के लोग शामिल रहे। यह लोग जगह-जगह फंसे हुए थे और दो-तीन दिन से पैदल चलकर रोडवेज स्टेशन पहुंचे। प्रशासन ने सभी को रोडवेज बसों की मदद से उनको घरों को रवाना किया। नगर निगम के कर्मचारियों ने नगर में सेनिटाईजर का छिड़काव किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *