उत्तराखंड में 40 प्रतिशत विधायक निधि खर्च होेनेे कोे शेेष

खबर शेयर करें

17 विधायकोें की आधी से कम व 5 विधायकोें की 75 प्रतिशत सेे अधिक खर्च

हल्द्वानी। उत्तराखंड केे वर्तमान विधायकों को दिसम्बर 2019 तक कुल 798.75 करोड़ रूपयेे की विधायक निधि उपलब्ध हुुई। जबकि उसमें सेे दिसम्बर 2019 तक केवल 60 प्रतिशत 481.16 करोड़़ की विधायक निधि ही खर्च होे सकी। 40 प्रतिशत 317.58 करोेड़ की विधायक निधि खर्च होेनेे को शेष हैै। सूचना अधिकार कार्यकर्ता नदीम उद्दीन को ग्राम्य विकास आयुक्त कार्यालय द्वारा उपलब्ध करायी गयी सूचना सेे यह मामला प्रकाश मेें आया हैै।

काशीपुर निवासी सूचना अधिकार कार्यकर्ता नदीम उद्दीन नेे उत्तराखंड केे ग्राम्य विकास आयुक्त कार्यालय सेे विधायक निधि खर्च सम्बन्धी सूचना मांगी थी। जिसके उत्तर मेें लोक सूचना अधिकारी/आयुक्त (प्रशासन)  हरगोविंद भट्ट द्वारा अपनेे पत्रांक 3211केे साथ विधायक निधि वर्ष 2017-18 से 2019-20 का विवरण दिसम्बर 2019 उपलब्ध कराया है। जिसमें दिसम्बर 2019 के अंत तक की विधायक निधि खर्च का विवरण दिया गया हैै। श्री नदीम कोे उपलब्ध सूूचना केे अनुुसार उत्तराखंड के 71 विधायक को 1125 लाख रूपयेे प्रति विधायक की दर सेे 79875 लाख रूपयेे की विधायक निधि दिसम्बर 2019 तक उपलब्ध करायी गयी। इसमें सेे जनवरी 2020 केे प्रारंभ में रू. 31758 लाख की विधायक निधि खर्च होेनेे कोे शेष हैै।  

उत्तराखंड केे 71 विधायकों में 17 विधायकों की आधी विधायक निधि भी खर्च नहीं हुई हैै। सबसे कम विधायक निधि खर्च करने वाले विधायक धारचूला विधायक हरीश सिंह धामी है जिनकी केवल 30 प्रतिशत विधायक निधि खर्च हुई हैै जबकि इनसे अधिक 33 प्रतिशत केदारनाथ विधायक मनोज रावत तथा 39 प्रतिशत खर्च वाले रानीखेत विधायक करन मेहरा है। इनके अतिरिक्त हरिद्वार विधायक मदन कौशिक की 40, श्रीनगर विधायक धनसिंह, जागेश्वर विधायक गोविंद सिंह कुंजवाल की 41-41 प्रतिशत, गंगोत्री विधायक गोपाल सिंह रावत की 43, गंगोली हाट विधायक मीना गंगोला की 44, बद्रीनाथ विधायक महेन्द्र भट्ट तथा डीडीहाट विधायक विशन सिंह चुफाल की 45-45 प्रतिशत, थराली विधायक मगन लाल शाह, पिथौरागढ़ विधायक प्रकाश पंत तथा कर्णप्रयाग विधायक सुरेन्द्र सिंह नेगी की 46-46 प्रतिशत, चकराता विधायक प्रीतम सिंह, प्रताप नगर विधायक विजय सिंह पंवार की 47-47 प्रतिशत, खटीमा विधायक पुष्कर सिंह धामी की 48 प्रतिशत, द्वाराहाट विधायक महेश नेगी की 49 तथा विकासनगर विधायक मुन्ना सिंह चौहान की 50 प्रतिशत विधायक निधि दिसम्बर 2019 तक खर्च हो सकी है।

उत्तराखंड के 5 विधायकोें की 75 प्रतिशत सेे अधिक विधायक निधि खर्च होे चुुकी हैै। सर्वाधिक 78 प्रतिशत विधायक निधि हरिद्वार ग्रामीण से विधायक यतीश्वरानन्द की दिसम्बर 2019 तक खर्च हुई हैै। 76 प्रतिशत विधायक निधि खर्च वाले विधायकों में 4 विधायक बीएचईएल हरिद्वार से आदेश चौहान, लक्सर से संजय गुप्ता, कपकोट से बलवन्त सिंह, भगवानपुर से ममता राकेश हैैं। 74 प्रतिशत विधायक निधि खर्च वालोें में 5 विधायक नामित जी,आई.सी.मैनन, मंसूरी से गणेश जोशी, टिहरी से धनसिंह नेेगी, लालकुआं से नवीन चन्द्र दुम्का तथा लोहाघाट से पूरन सिंह फर्त्याल हैैं। 73 प्रतिशत खर्च वाले 3 विधायक खानपुर से कुुंवर प्रणव सिंह चैैम्पियन, रूड़की से प्रदीप बत्रा तथा भीमताल से राम सिंह कैड़ा हैं। धर्मपुर से विनोद चमोली तथा कैंट विधायक हरबंश कपूर व सितारगंज से सौरभ बहुगुणा की 72 प्रतिशत तथा कालाढूंगी से बंशीधर भगत, पुरौला से राजकुमार गदरपुर से अरविन्द पाण्डेेय की 71 प्रतिशत विधायक निधि खर्च हो सकी हैै। 

श्री नदीम को उपलब्ध विवरणों के अनुसार वर्ष 2017 की तुुलना मेें वर्ष 2019 मेें विधायक निधि खर्च की धनराशि मेें भारी सुधार हुआ है।  दिसम्बर 2017 में उपलब्ध 195.25 करोड़ की विधायक निधि में से केवल 12 प्रतिशत 23.29 करोड़ की धनराशि ही खर्च हुई थी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *