देहरादून में ई-रिक्शों का रूट तय

खबर शेयर करें

देहरादून। सरकार की ओर दून शहर में प्रतिबंधित किए जाने के पांच महीने बाद ई-रिक्शा के रूट तय कर दिए गए हैं। ई-रिक्शा के लिए शहर के संपर्क मार्गों के कुल 31 रूट तय किए गए हैं। इन रूटों पर ट्रायल के तहत एक सप्ताह तक ई-रिक्शा का संचलन होगा। इसके बाद प्लान की समीक्षा होगी, जिसके बाद संभावित सुधारों के साथ उसे पूरी तरह प्रभावी कर दिया जाएगा। गौरतलब हैं की शहर की यातायात व्यवस्था के लिए मुसीबत बन रहे ई-रिक्शा को शहर में प्रतिबंधित कर दिया था। इसके बाद से ई-रिक्शा के रूट को सुनियोजित करने की कोशिश की जा रही थी। विगत सोमवार को ई-रिक्शा चालकों ने रूट संचालन तय करने की मांग को लेकर सचिवालय कूच भी किया था। जिसके बाद उच्चाधिकारियों की पहल पर यातायात निदेशालय में पुलिस व परिवहन के आला अधिकारियों और ई-रिक्शा यूनियन के पदाधिकारियों के बीच वार्ता हुई। वार्ता के बाद ई-रिक्शा के 31 रूट तय कर दिए। निदेशक यातायात केवल खुराना ने बताया कि एक सप्ताह तक इस प्लान का ट्रायल किया जाएगा। ट्रायल के बाद पुनर प्लान की समीक्षा होगी। जिसमें सामने आए सुधारों को समाहित करते हुए इसे भविष्य के लिए लागू कर दिया जाएगा। बैठक में एसपी ट्रैफिक प्रकाश चंद्र, एसपी सिटी श्वेता चैबे, एआरटीओ प्रवर्तन अरविन्द पांडेय, सीओ ट्रैफिक राकेश देवली के अलावा ई-रिक्शा यूनियन के पदाधिकारी रविंद्र त्यागी, मारूफ राव, सत्यवीर आर्य, संतोष कुमार, रॉबिन त्यागी आदि भी मौजूद रहे। यातायात निदेशक केवल खुराना ने बताया कि चिह्नित 31 रूटों पर ट्रायल के दौरान कम से कम से तीन ई-रिक्शा को चलाना होगा। इसके बाद ग्लोब चैक से मसूरी डायवर्जन तक के रूट पर ई-रिक्शा चलाने की अनुमति दी जाएगी। यदि यूनियन के पदाधिकारी ग्लोब चैक से मसूरी डायवर्जन के बीच ट्रायल की बात कर रहे हैं तो गलत हैं। रूट को सभी पक्षों से बातचीत के बाद तय किया गया है। इसमें सभी को सहयोग करना होगा। कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना की मौजूदगी में पुलिस मुख्यालय में हुई वार्ता के बाद निदेशालय ने रूट तो तय कर दिए, लेकिन इस पर अभी यूनियन की ओर से सहमति बनती नहीं दिख रही है। इस बैठक के बाद देवभूमि ई-रिक्शा मालिक एवं चालक वेलफेयर सोसायटी ने बैठक की। शेष मार्गों पर आठ फरवरी को यूनियन की बैठक के बाद निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि जब तक यूनियन की सभी मांगों को मान नहीं लिया जाता, उनका धरना-प्रदर्शन जारी रहेगा।
चयनित रूट

त्यागी रोड, एमडीडीए कॉलोनी चंदर रोड।

चंदर नगर पोस्टमार्टम वाली गली सड़क से चंदर रोड रेसकोर्स।

रेसकोर्स चैक से रेसकोर्स, पुलिस लाइन, आफिसर्स कॉलोनी।

माता मंदिर रोड से अजबपुर कलां सरस्वती विहार।

अजबपुर सड़क के समस्त अजबपुर क्षेत्र, प्रकाश विहार आदि।

रिस्पना पुल से आगे बांयी तरफ की दोनों सड़कें जैसे बद्रीश कालोनी, सारथी विहार इत्यादि।

जोगीवाला चैक से बद्रीपुर का समस्त क्षेत्र।

बाईपास से बंजारावाला समस्त क्षेत्र, मोथरोवाला आदि।

हिम पैलेस से नेहरू कालोनी समस्त क्षेत्र।

द्वारिका स्टोर चैक से समस्त डालनवाला क्षेत्र बलवीर रोड, ब्राइटलैंड रोड, वेलहम रोड।

आइटी पार्क के भीतर समस्त क्षेत्र और कालोनियां।

कैनाल रोड कंडोली क्षेत्र।

प्रेमनगर में खन्ना साइकिल और कालरा स्वीट शॉप चैक से बड़ोवाला, चाय बागान, ठाकुरपुर, समस्त क्षेत्र।

कौलागढ़ रोड, राजेंद्र नगर, ओएनजीसी कॉलोनी नींबूवाला समस्त क्षेत्र।

लालपुल से गांधीग्राम बस्ती और पटेलनगर क्षेत्र।

लालपुल से महंत इंद्रेश अस्पताल और कारगी का समस्त क्षेत्र।

मेन हाईवे और मेन रोड गुलरघाटी वाली रोड से हटकर बालावाला, रांझावाला, मियांवाला, तुनवाला और अपर-लोअर नकरौंदा समस्त क्षेत्र।

विधानसभा तिराहा से डिफेंस कालोनी समस्त क्षेत्र।

पुलिया नंबर-6 से लाडपुर, रायपुर, तुनवाला आदि।

चकराता रोड से मित्रलोक, आदर्श विहार कॉलोनी, सैय्यद मोहल्ला आदि।

कौलागढ़ से महालेखाकार कार्यालय वाली रोड।

आनन्दा अस्पताल मार्ग शास्त्री नगर समस्त कॉलोनियां।

शहीद दीपक स्मृति द्वार जोगीवाला से जागृति विहार, नवादा से डिफेंस कॉलोनी।

हाथीबड़कला स्थित नयागांव मार्ग।

देहराखास स्थित समस्त कॉलोनी क्षेत्र।

मातावाला बाग से भंडारीबाग, पथरीबाग।

हरिद्वार रोड स्थित जानकी ऐकेडमी स्कूल वाले मार्ग पर समस्त कुंज विहार क्षेत्र।

जाखन से डीआइटी।

मसूरी डायवर्जन से राजपुर।

ग्लोब चैक से जाखन तक।

ग्राफिक एरा का आंतरिक मार्ग।

नन्दा की चैकी से बिधौली मार्ग।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *