72 घंटे का धरना-सत्याग्रह संविधान की प्रस्तावना के सामूहिक पाठ के साथ संपन्न

खबर शेयर करें

हल्द्वानी। सीएए-एनपीआर-एनसीआर के खिलाफ “संविधान बचाओ मंच” के 72 घंटे के “धरना-सत्याग्रह” के समापन पर सिटी मजिस्ट्रेट के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन प्रे‌षित किया गया। जिसकी प्रतिलिपि सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश महोदय को भी भेजी गई। इसके अलावा उत्तराखंड में एनपीआर की प्रक्रिया पर रोक लगाने और अन्य राज्यों की तर्ज पर उत्तराखंड की विधानसभा से भी सीएए को वापस लेने, धारा 144 हटाने, आंगनबाड़ी वर्करों की सेवा बहाल करने की मांग का ज्ञापन राज्य के मुख्यमंत्री को भेजा गया। संविधान की प्रस्तावना के सामूहिक पाठ और तत्पश्चात राष्ट्रीय गान के साथ समापन हुआ। धरनास्थल पर की गयी सभा में जामा मस्जिद हल्द्वानी के इमाम शाहिद अजहरी ने कहा कि धरना-सत्याग्रह में विभिन्न तबकों, क्षेत्रों, धर्म, जातियों के हजारों लोगों ने भागीदारी की। यह दिखाता है कि जनता के भीतर देश के संविधान के प्रति बेहद सम्मान और देश के संविधान और लोकतंत्र की रक्षा का जज्बा गहरे रूप में मौजूद है। बड़ी मस्जिद के इमाम सैय्यद इरफान रसूल ने कहा कि हम यहीं पैदा हुए हैं और यहीं सुपुर्दे खाक होंगे और भारतीय होने के नाते ये हक हमसे कोई नहीं छीन सकता।” उन्होंने कहा कि, “सीएए, एनआरसी और एनपीआर की समूची परियोजना ही बहुत बड़े झूठ पर आधारित है। सरकार के प्रत्येक झूठ का अब पर्दाफाश हो चुका है और सरकार द्वारा लोगों पर जो झूठ के गोले बरसाये जा रहे हैं उनके खिलाफ जनता सच्चाई को समझने लगी है। इस सच को जनता के बीच व्यापक पैमाने पर ले जाने की जरूरत है। धरना-सत्याग्रह में मौलाना शाहिद रजा, मौलाना अब्दुल बासित, जी आर टम्टा, तौफीक अहमद, नफीस अहमद खान,पी पी आर्य, प्रभात ध्यानी, बहादुर सिंह जंगी, विमला रौथाण, गोविंद राम गौतम, इकराम अंसारी, हिना, नूरजहां, नजमा, अशाबी, निर्मला, नसीम जहाँ, रजनी जोशी, मुमताज़,,मो फुरकान, अहमद नबी, कासिम अली, नजीर अहमद, शबाना,मुनिया, नसीमा,ललित मटियाली, मुकेश बौद्घ, शराफत खान, बाबू पेंटर, मोहन मटियाली, टी आर पाण्डे, रईस उल हसन, सालिम सिद्दीकी, सिराज अहमद, सरताज आलम, पान सिंह बोहरा, तस्लीम अंसारी, जफर पीएसी, सुरेश पाण्डे, सलमान रजा, मारूफ अंसारी,महेंद्र, मुकेश बल्यूटिया, नसीम, रेनू, रजिया बेगम, रमेश कोठरी, शाहनवाज, फाजिल अंसारी, ताज मोहम्मद, शादाब आदि सहित सैकड़ों महिला पुरूष मुख्य रूप से शामिल रहे। संचालन पार्षद शकील अंसारी ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *