एडीजी ने लिया कर्फ्यूग्रस्त बनभूलपुरा क्षेत्र का जायजा, सख्ती बरतने के निर्देश

खबर शेयर करें

हल्द्वानी। नगर के बनभूलपुरा क्षेत्र में लॉक डाउन के बीच कोरोना संक्रमण के मामले सामने के बाद इसे फैलने से रोकने के लिए लागू कर्फ्यू का बुधवार को पुलिस महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने जायजा लिया। उन्होंने सुरक्षा बलों को कर्फ्यू तोड़ने वालों पर सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिये।

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण से बचने के लिए लागू लॉक डाउन के बीच नगर के बनभूलपुरा क्षेत्र में जमात में शामिल होकर आये लोगों के संक्रमित होने के मामले सामने आये। इस पर बनभूलपुरा क्षेत्र को बीती अप्रैल को इस क्षेत्र को सील कर दिया। यहां रविवार को लाइन नंबर आठ में हुए बवाल के बाद सोमवार से यहां कर्फ्यू लागू है। जिसके चलते इस क्षेत्र में बड़ी संख्या में सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है। पूरा क्षेत्र पुलिस-प्रशासन की निगाहबंदी में है। पुलिस-प्रशासनिक अधिकारी लगातार व्यवस्थाओं का जायजा ले रहे हैं। क्षेत्र में जरूरत का सामान लोगों की मांग के अनुसार उनके घरों तक पहुंचाया जा रहा है। इस क्षेत्र की समस्त सीमाओं को सील किया गया है। कर्फ्यू का कड़ाई से पालन कराया जा रहा है।

इस क्रम में बुधवार को पुलिस महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने कर्फ्यूग्रस्त इस इलाके में स्थिति का जायजा लिया। वह पुलिस के उच्चाधिकारियों के साथ इस क्षेत्र में घूमे। एडीजी अपराध एवं कानून व्यवस्था ने सुरक्षाबलों को पूरी तरह चौकसी बरतने के निर्देश दिए। एडीजी ने अधीनस्थ अधिकारियों को भी निर्देश दिये कि वह कर्फ्यू का पालन कराने में किसी भी तरह की कोई ढ़िलाई न बरतें। किसी को भी क्षेत्र में निकलने न दें। क्षेत्र के लोगों की मांग पर जरूरत का प्रत्येक सामान उपलब्ध कराया जाय। इस क्षेत्र को जोड़ने वालों सीमाओं पर भी कड़ा पहरा दिया जाय। जिससे कि न तो कोई इस क्षेत्र में आ सके और न ही यहां से कोई बाहर जा सके।

कर्फ्यूग्रस्त इलाके का जायजा लेने के साथ ही एडीजी अपराध एवं कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने लॉक डाउन का भी सख्ती से पालन कराने के निर्देश अधीनस्थों को दिये। कहा कि बिना वजह घूमने वाले वाहनों को तत्त्काल कब्जे में लिया जाय, उन्हें सील करने संबंधी कार्यवाही बाद में की जाती रहेगी। उन्होंने यह भी कहा कि अफवाह फैलाने वालों पर भी नजर रखी जाय, ऐसा कृत्य करते पाये जाने पर संबंधित के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्यवाही अमल में लाई जाय। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *