कंजरवेशन रिजर्व आसन वेटलैंड में होंगी परिंदों की गणना

खबर शेयर करें

देहरादून। देश के पहले कंजरवेशन रिजर्व आसन वेटलैंड में प्रवास पर आए परिंदों की विधिवत गणना 25 जनवरी को होगी। वाइल्ड लाइफ इंस्टीट्यूट के निदेशक डॉ. धनंजय मोहन की देख-रेख में विशेषज्ञ इस कार्य को अंजाम देंगे। चकराता वन प्रभाग ने गणना के लिए तैयारियां शुरू कर दी हैं। आसन रेंजर जवाहर सिंह तोमर ने बताया कि इस बार मेहमान परिंदों की संख्या में बढ़ोत्तरी की उम्मीद है। अक्टूबर में आसन वेटलैंड के प्रवास पर आए परिंदे मार्च अंत तक यहां डेरा डालते हैं और फिर अपने मूल स्थानों को लौट जाते हैं। वेटलैंड में प्रवासी परिंदों के प्रति पर्यटकों का रुझान बढ़ाने के लिए हाल ही में वन आरक्षी प्रशिक्षण केंद्र रामपुर मंडी में बर्ड फेस्टिवल भी आयोजित हो चुका है। इसके अलावा ईको टूरिज्म वन की ओर से वेटलैंड पर प्रमोशनल फिल्म का निर्माण भी कराया गया। चकराता वन प्रभाग के प्रभागीय वनाधिकारी दीपचंद आर्य ने बताया कि विधिवत गणना की तारीख 25 जनवरी तय हो गई है। लोकल गणना में इस बार प्रवासी परिंदों की संख्या 5500 से अधिक आंकी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *