बिरसिंग्या गांव पहुंचे जिलाधिकारी, सुनी समस्याएं, दिए निर्देश

खबर शेयर करें

धारी/भीमताल। तयशुदा कार्यक्रम के अनुसार विकास खण्ड धारी के दुर्गम गांव बिरसिंग्या में युवा जिलाधिकारी सविन बंसल जिले के आला अधिकारियों के साथ पहुचे। श्री बंसल पहले जिलाधिकारी है जो कि आजादी के 73 वर्षो के बाद लगभग 8 किमी का दुर्गम पहाडी रास्ता पैदल पार कर गांव मे पहुचे। जिलाधिकारी को अपने बीच पाकर गांववासी खुशी से लबरेज नजर आये। उन्होेने गर्मजोशी के साथ जिलाधिकारी श्री बंसल का स्वागत किया, यहां तक की बुर्जुगों ने गले लगाकर उन्हे आर्शीवाद दिया वही फूलमालाओं से उनका स्वागत भी किया। जिलाधिकारी के गांव मे आगमन से लोगो की होली की खुशिया दोगुनी हो गई और वही लोग अपने बीच मे जिलाधिकारी व अन्य अधिकारियों को पाकर फुले नही समाये। जिलाधिकारी ने गांव के लोगों के साथ दोपहर के भोजन ग्रहण किया श्री बंसल व अन्य अधिकारियों ने दाल-भात का आनन्द भी लिया। जिलाधिकारी ने गंाववासियों को होली की शुभकामनाये भी दी।
पूर्व माध्यमिक विद्यालय  बिरसिंग्यां मे आयोजित जनमिलन कार्यक्रम मे लोगों ने अपने गांव व क्षेत्र की अनेकों समस्यायंे जिलाधिकारी के सम्मुख रखी। जनता से संवाद के दौरान पूछे जाने पर जनता ने अवगत कराया कि आशा कार्यकत्री क्षेत्र मे नही आती है, जिस पर जिलाधिकारी ने गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुये डा0 बलबीर सिह व प्रभारी चिकित्सक ब्लाक (एमओआईसी) से रिपोर्ट तलब की, यदि रिपोर्ट में जानकारी सही पायी गई तो आशा कार्यकत्री को तत्काल हटाने के आदेश जिलाधिकारी ने दिये। श्री बंसल ने बच्चों के टीकाकरण की जानकारी महिलाओं से ली। उन्होेने कहा यदि आशा/एएनएम नियमित टीकाकरण हेतु बिरसिंग्या नही आये तो एमओआईसी को प्रतिमाह टीकाकरण हेतु लगाया जायेगा।
जिलाधिकारी श्री बंसल ने क्षेत्र मे राशन वितरण की जानकारियां जनता से ली, जिस पर क्षेत्रवासियों ने बताया कि राशन लेने बबियाड जाना पडता है, जिस पर जिलाधिकारी ने कहा कि यदि कोई बिरसिंग्या मे राशन की दुकान खोलना चाहता है तो प्रार्थना पत्र दें ताकि दुकान का आवंटन किया जा सके। शिविर में पूर्व माध्यमिक विद्यालय के बच्चों को स्वच्छता किट, कापियां, पैन-पैसिंल वितरित किये गये। जनता मिलन दरबार में क्षेत्रवासियोें द्वारा सडक की मांग रखी गई, जिस पर जिलाधिकारी ने बताया कि वर्ष 2011-12 मे 04 किमी. सडक प्रथम चरण की जिला योजना मे स्वीकृति दी गई थी, लोनिवि द्वारा वन प्रस्ताव बनाकर भेजा गया था जिसकी 2019 में वन भूमि की सैद्वान्तिक स्वीकृति प्राप्त हो चुकी है, क्योकि सडक की लागत 04 करोड रूपये है, जिसे जिला योजना से बनाना सम्भव नही है, इसलिए सडक का प्रस्ताव व डीपीआर राज्य योजना मे भेजा जायेगा। अधिशासी अभियन्ता लोनिवि ने बताया भूमि का चयन कर लिया गया है। श्री बंसल ने जनता की मांग पर बिरसिंग्या मे दुग्ध समिति भवन जिला योजना से बनाने की स्वीकृति दी। जनता द्वारा शौचालय निर्माण पूर्ण होने के बाद भुगतान न होने की शिकायत पर मुख्य विकास अधिकारी ने बीडीओ, डीआरडीए व स्वजल अधिकारियोें की जांच टीम गठित कर जांच उपरान्त जिनको भुगतान होना है किया जायेगा।
जिलाधिकारी श्री बंसल ने गरीब विद्यार्थी की क्षतिग्रस्त यूनिफार्म (जर्सी) को देखकर उनका दिल पसीज उठा उन्होने मौके पर ही छात्र दिनेश को यूनिफार्म हेतु छः सौ रूपये नगद धनराशि दी जिसकी लोगो ने सराहना की।  उन्होने कहा बिरसिंग्या पूर्व माध्यमिक विद्यालय में प्राथमिकता से शिक्षक दिया जायेगा। उन्होने कहा वन पंचायत से एनओसी प्राप्त कर बच्चों के खेलने के लिए खेल  मैदान  बनाया जायेगा। श्री बंसल ने क्षेत्र मे महिला समूहों के गठन हेतु प्रेरित किया ताकि महिलायें आर्थिक रूप से मजबूत हो सकें। उन्होने कहा दुदली, बबियाड मे नये पेेंशन, दिव्यांग पेंशन प्रमाण पत्र और अन्य पेंशन प्रकरणों का सत्यापन व सुधार कार्य मौके पर ही किया जायेगा। श्री बंसल ने रा.पू.मा.वि. बिरसिंग्या की चाहरदीवारी बनाने हेतु मुख्य शिक्षा अधिकारी को 3 दिन के भीतर प्रस्ताव प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी श्री बंसल ने विद्यालय मे मध्याह्न भोजन बनाने हेतु गैस संयोजन के लिए सात हजार रूपये अन्टाईड फंड से दिये जाने की घोषणा की।
मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार ने बताया कि बिरसिंग्या मे 10 गौशाला, 06 वाटर टैंक, 04 भूमि सुधार कार्य, 02 सीसी सडक ब्लाक से स्वीकृत कर दी गई है। ब्लाक प्रमुख धारी आशा रानी ने क्षेत्र की समस्याओं से अवगत कराते हुये बिरसिंग्या तक सडक बनाने की मांग रखी। अध्यक्ष दुग्ध संघ मुकेश बोरा ने जिलाधिकारी श्री बंसल के साथ ही सभी का स्वागत किया। उन्होने पुरानी पेयजल योजना के मरम्मत कराने की मांग के साथ ही सडक बनाने की मांग रखी।  
शिविर में कनिष्ठ प्रमुख कृपाल मेहता, प्रधान पुष्पा देवी, उपजिलाधिकारी अनुराग आर्य, अधिशासी अभियन्ता लोनिवि एबी काण्डपाल, समाज कल्याण अधिकारी अमन अनरिूद्व, जिला प्रोवेजन अधिकारी व्योमा जैन,बीडीओ तारा हृयांकी, डीईओ गोपाल स्वरूप,सहायक निदेशक डेयरी पीसी शर्मा के आलावा अन्य जनप्रतिनिधि एवं गाववासी  मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *