निर्भया कांड के दोषियों को फाँसी पर लटकाने से मिला न्याय

खबर शेयर करें

गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान का धरना जारी

देहरादून। स्थाई व पूर्णकालिक राजधानी गैरसैंण बनाने की मांग को लेकर आज गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान का धरना 551वाँ दिवस में भी पूर्ववत जारी रहा। आज निर्भया कांड पर प्रतिक्रिया देते हुए गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान ने इसे देर से लिया गया परंतु सही कदम बताया। गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान ने कहा कि निर्भया कांड के दोषियों को फाँसी पर लटकाने में काफी देर हुई। ऐसे मामलों में त्वरित सुनवाई और न्याय मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान का मत है कि बलात्कारियों को मृत्यू दंड जैसी सख्त कार्रवाई देश में ऐसे अपराध पर कुछ हद तक अंकुश लगाएंगी। हालांकि दीर्धकालीन हल संस्कारी समाज निर्माण में ही निहीत है.कोरोना वायरस पर प्रतिक्रिया देते हुए गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आह्वान का पूर्ण अनुसरण करने को कहा है। गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान ने कहा की कोरोना वायरस एक बड़ी वैश्विक चुनौती है जिसे केवल सहयोग की भावना से ही निपटा जा सकता है। गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान ने देश में 22 मार्च 2020 को जनता कर्फ्यू को पूर्ण सहयोग देने की बात कही है। गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान ने कहा है कि यदि सरकार गैरसैंण अभियानकर्मियों की स्वैच्छिक सेवाओं को जरूरी समझेगी तो हम तत्परता से बिना संकोच के आएंगे। गैरसैंण राजधानी निर्माण अभियान ने दृढ़ विश्वास व्यक्त किया है कि भारतीय समाज और उत्तराखंड की अवाम कोरोना वायरस की विकराल समस्या से पार पा लेंगी। धरने पर बैठने वालों में मनोज ध्यानी, रविन्द्र कुमार प्रधान, विजय सिंह रावत, बृजमोहन सिंह नेगी, सोहन सिंह रावत, मदन सिंह भंडारी, विनोद असवाल, किरण किशोर, मुकुल हटवाल शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *