बंद मंदिरों में वीर हनुमान का जन्मोत्सव की धूम, सिंदूर का चोला चढ़ा लगाया भोग

खबर शेयर करें

हल्द्वानी। चैत्र शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि के दिन वीर हनुमान का जन्मोत्सव बड़ी धूमधाम के साथ नगर के बंद पड़े मंदिरों व घरों में मनाया गया। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए लागू लॉक डाउन के चलते इन दिनों समस्त धार्मिक स्थलों में भी आवाजाही पर रोक है। जिसके चलते मंदिरों में केवल पुजारी ही पूजा-अर्चना कर रहे हैं। चैत्र नवरात्रि का पर्व भी पुजारी द्वारा ही मंदिरों में मनाते हुए देखा गया।

आज हनुमान जन्मोत्सव का भी आयोजन बंद मंदिरों में पुजारियों द्वारा पूजा-अर्चना व बाबा हनुमान जी को सिंदूर का चोला चढ़ाकर मनाया गया। रामलीला मौहल्ला स्थित दक्षिण मुखी प्राचीन श्री संकट मोचन हनुमान मंदिर में जन्मोत्सव पर सामाजिक दूरी बनाकर पांच ब्राह्मणों ने सुंदरकांड पाठ एवम भजन कीर्तन किये। पण्डित विवेक चन्द्र शर्मा ने बाबा को चोला चढ़ाया। साथ ही मध्याह्न 12 बजे महाआरती की और बाबा को बेशन के लड्डू, चूरमा व पंचामृत का भोग लगाया गया।

वहीं सत्यलोक कॉलोनी में स्थित श्री संकट मोचन हनुमान मंदिर में भी श्री हनुमान जन्मोत्सव बहुत ही सादगी के साथ मनाया गया। महन्त संजय गुप्ता ने सुंदरकांड पाठ किया। तदोपरांत श्री हनुमान जी को लड्डुओं का भोग लगाया गया। लॉक डाउन के चलते यहां इस वर्ष विगत वर्षों की तरह भंडारे का आयोजन नहीं हो पाया। महावीर गंज स्थित पीपल के वृक्ष के नीचे विराजमान हनुमान जी को भी चोला व प्रसाद चढ़ाकर जन्मोत्सव मनाया गया।

घरों में भी लोगों ने हनुमान चालीसा व सुंदरकांड का पाठ कर हनुमान जन्मोत्सव के पावन अवसर पर हलुवा, खीर इत्यादि का भोग लगाकर परिवार के लोगों में वितरण किया। साथ ही बाबा से कोरोना वायरस के संक्रमण को अपने प्रताप से समाप्त करने की कामना भी की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *