बागेश्वर में जंगल की आग में जिंदा जली दो महिलाएं

खबर शेयर करें

कपकोट विधायक ने सरकार से की परिवारों को मदद देने की मांग

हल्द्वानी /बागेश्वर। उत्तराखंड के बागेश्वर में कपकोट क्षेत्र में घास काटने गई दो महिलाएं गत देर शाम जंगल की आग में जिंदा जल गईं। एक महिला का शव गत दिवस ही बरामद कर लिया गया था। जबकि दूसरी महिला का शव आज सुबह बरामद हुआ।

कपकोट के चचई गांव की महिला नंदी देवी (40) पत्नी मदन राम, इंदिरा देवी पत्नी तारा राम और गांव की एक अन्य महिला शनिवार शाम पुड़कुनी के जंगल में घास काटने गई थीं। उस वक्त जंगल में आग लगी हुई थी। शाम करीब सात बजे आग की चपेट में आने से नंदी देवी पत्नी मदन राम बुरी तरह जल गई और उसकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई। वहीं, इंदिरा देवी (36) पत्नी तारा राम का शव रविवार सुबह जंगल से बुरी तरह जली अवस्था में बरामद हुआ।

गांव की गंगा देवी भी इन महिलाओं के साथ घास काटने जंगल गई थी, उसने किसी तरह भागकर जान बचाई। भागते समय गिरकर उसके पैर में चोट लग गई। गंगा देवी ने घर आकर लोगों को घटना की जानकारी दी। पुलिस ने दोनों शवों का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भेज दिया है।  कपकोट के पूर्व विधायक ललित फर्स्वाण ने मृतकों के परिवार को कम से कम 20 लाख रुपये की मदद देने की मांग सरकार से की है। उन्होंने कहा कि जंगल में आग में लगी हुई थी लेकिन फायर सीजन में भी वन विभाग का कोई कर्मचारी मौके पर नहीं पहुंचा। उस वक्त गांव के लोग मौके पर पहुंचे। लोग नहीं जाते तो घटना का पता ही नहीं लगता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *