भाजपा के सत्ता में आते ही विकास का पहिया हुआ जामः इंदिरा

खबर शेयर करें

हल्द्वानी। नेता प्रतिपक्ष डॉ इंदिरा हृदयेश ने प्रदेश सरकार पर जमकर कटाक्ष किया। यहां पत्रकारों से वार्ता करते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा जब-जब सत्ता में आयी है, प्रदेश में विकास कार्य ठप हो जाते हैं। महंगाई को रोकने में सरकार पूर्णतया विफल रही है। हर क्षेत्र में बढ़ती महंगाई के कारण जनता बेहाल है। बसों का किराया, रसोई गैस, दूध, सब्जियों से लेकर पैट्रोल एवं दालों के दाम बढ़ते जा रहे हैं। आम जरूरत की चीजों में बढ़ती महंगाई को दरकिनार कर सरकार ने एक ही बड़ा काम किया है। प्रदेश में शराब के दामों में भारी कमी कर युवा पीढ़ी को नशे की ओर धकेलने का कार्य भाजपा सरकार ने किया है।

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि प्राधिकरण इस प्रदेश की जनता के लिए अभिशाॅप बन गया है। प्राधिकरण के अनुचित मानकों के कारण यह ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्र के छोटे-बड़े किसानों एवं व्यापारियों सहित आम जनता के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है। प्राधिकरण के नियमों के कारण यह भ्रष्टाचार का केंद्र बना हुआ है। उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस सरकार द्वारा स्वीकृत सभी विकास के कार्यों पर भाजपा सरकार अनुचित ढंग से रोक लगा रही है। तीन वर्ष बाद भी आईएसबीटी का कार्य प्रारंभ नहीं हो गया है। इतना ही नहीं कांग्रेस सरकार द्वारा निर्मित अन्तर्राष्ट्रीय स्टेडियम में अभी तक सरकार द्वारा किसी भी तरह के खेलों का आयोजन नहीं किया गया है और न ही अन्तर्राष्ट्रीय स्टेडियम के रखरखाव की जिम्मेदारी भी किसी को सौंपी ही गई है। जो भाजपा सरकार की खेल व खिलाड़ियों के प्रति संवेदनहीनता को दर्शाता है। नेता प्रतिपक्ष ने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार कांग्रेस के विधायकों के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। कांग्रेसी विधायकों की विधानसभा क्षेत्रों को विकास से वंचित रखा जा रहा है। पूर्ववती सरकार द्वारा स्वीकृत योजनाओं को रोककर भाजपा सरकार द्वेष भावना से ग्रसित होकर विकास अवरूद्ध करने का कार्य किया जा रहा है। कहा कि भाजपा सरकार की विफल नीतियों के कारण सरकारी कर्मचारी सड़क पर उतरने को मजबूर हैं। बिगड़ती कानून व्यवस्था के कारण प्रदेश में महिलायें भी सुरक्षित महसूस नहीं कर रही है। जिसके विरोध में 26 फरवरी को कांग्रेस के नेतृत्व में जन सैलाब एमबी इंटर काॅलेज मैदान से लालटेन पदयात्रा के रूप में सड़क पर उतरेगा। वार्ता में पूर्व पालिकाध्यक्ष हेमंत बगड्वाल भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *