अवैध संबंधों के चलते पति ने दोस्त के साथ उतारा था महिला को मौत के घाट

खबर शेयर करें

हल्द्वानी। महिला को अवैध संबंधों के चलते उसके पति ने अपने दोस्त के साथ मिलकर मौत के घाट उतारा था। इस महिला का शव 30 जनवरी को कालाढूंगी थाना क्षेत्र में बरामद हुआ था। रस्सी से गला घोंटने के बाद हत्यारों ने शव को जला दिया था। इस घटना के खुलासे में सीसीटीवी कैमरे की फुटेज पुलिस के लिए अहम क्लू बनी। पुलिस ने पकड़े गये हत्यारों के खिलाफ संबंधित धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर जेल के लिए रवाना कर दिया है।

बता दें कि बीती 30 जनवरी को कालाढूंगी थाना क्षेत्र के बैलपोखरा के जंगल में एक अज्ञात महिला का अधजला शव बरामद हुआ था। इस घटना के खुलासे के लिए पुलिस टीमें लगाई गई थी। इसके बाद पुलिस महिला की शिनाख्त के साथ ही हत्यारों की तलाश में जुट गई। बुधवार को यहां पुलिस बहुद्देशीय भवन में घटना के बावत जानकारी देते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार मीणा ने बताया कि इस हत्याकांड के खुलासे के लिए सीसीटीवी कैमरों की मदद ली गई। जिसमें कार संख्या यूके 04एए-9646 के बहुत कम समय में चूनाखान की तरफ आना-जाना प्रकाश में आया। पुलिस ने इसी कार को आधार मानकर अपनी जांच आगे बढ़ाई। पुलिस ने कालाढूंगी-रामनगर के बीच लगे अन्य सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली तो क्लू हाथ लग गया। पुलिस ने कार स्वामी चकलुवा निवासी रमनजीत सिंह से पूछताछ की तो 30 जनवरी को कार उसके जीजा कुलदीप सिंह पुत्र जोगेंद्र सिंह निवासी धर्मपुर चूनाखान बैलपड़ाव द्वारा मांग कर ले जाना पता चला। इसके बाद पुलिस उसकी तलाश में जुट गई। इस बीच मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने उसे बीते दिवस गडेरी नदी के पुल के पास से दबोच लिया और पूछताछ शुरू कर दी। पुलिस के सख्ती बरतने पर वह टूट गया और पूरी कहानी उगल दी।

उसने बताया कि उसका दोस्त रविन्द पाल सिंह आहूजा उर्फ राजू पुत्र कश्मीर सिंह निवासी एकता कालोनी गली नंबर दो अबोहर फिरोजपुर पंजाब, जो कि वर्तमान में बदरपुर बार्डर दिल्ली में रहता है, उसका दोस्त है। 30 जनवरी की रात्रि दोनों ने मिलकर राजू की पत्नी अनीता की हत्या की है। उससे जानकारी जुटाने के बाद पुलिस ने राजू को भी खड़खड़ी चैकी क्षेत्र के मोतीचूर रेलवे स्टेशन हरिद्वार के पास से दबोच लिया। उसने पुलिस को बताया कि उसकी पत्नी टीवी शो व अन्य कार्यक्रमों में कार्य करती थी और उसके कश्मीर निवासी एक व्यक्ति से अवैध संबंध थे। इसका पता चलने पर उसने कई बार अपनी पत्नी को समझाया, लेकिन वह नहीं मानी। इस पर उसने उसकी हत्या की योजना बनाई। इसके लिए उसने अपनी पत्नी को झांसे में लेकर ट्रेनिंग के लिए मुंबई भिजवाने की बात कही और यहां कुलदीप को उसकी हत्या के लिए राजी कर लिया। इसके बाद वह अपनी पत्नी के साथ यहां पहुंचा और रामनगर रोडवेज स्टेशन में दोनों ने अनीता को चाय में नींद की गोली डालकर पिला दी। इसके बाद वह बेहोश हो गई तो चूनाखान के पास रविन्द्र ने कार की डिग्गी में रखी रस्सी से उसका गला घोंटकर मौत के घाट उतार दिया। दोनों शव को कार से बैलपोखरा जाने वाली रोड पर लाये और खेत में रखकर उस पर मोबिल आॅयल डालकर आग लगा दी। इसके बाद रविन्द्र अगले दिन दिल्ली लौट गया। पुलिस ने दोनों की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त मोबिन आॅयल की जरकेन, 2 मोबाइल फोन व घटना के समय पहने गये कपड़े बरामद कर लिये हैं। दोनों के खिलाफ संबंधित धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया गया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *