महिलाओं को अधिकारों के प्रति सजग रहने के लिये किया प्रेरित

खबर शेयर करें

हल्द्वानी। महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग द्वारा शुक्रवार को विकासखंड सभागार में घरेलू हिंसा से महिला संरक्षण अधिनियम 2005 के तहत महिला सशक्तिकरण को लेकर एक कार्यशाला आयोजित की गई। कार्यशाला में मुख्य अतिथि ब्लाक प्रमुख रूपा देवी काउन्सलर जया पांडे एडवोकेट बसन्ती गड़िया खण्ड विकास अधिकारी निर्मला जोशी रेनू मर्तोलिया आनंद आश्रम की संचालिका कनक चंद बाल विकास परियोजना अधिकारी चंपा कोठारी आदि ने कार्यशाला में मौजूद जनप्रतिनिधियों व महिलाओं को घरेलू हिंसा से महिला संरक्षण अधिनियम से संबंधित जानकारी दी व उन्हें उनके अधिकारों के प्रति सजग रहने के लिये भी प्रेरित किया । अपने संबोधन में मुख्यअतिथि ब्लाक प्रमुख रूपा देवी ने कहा महिलाओं को घरेलू हिंसा से राहत दिलाने के लिये महिला संरक्षण अधिनियम 2005 मिल का पत्थर साबित हो रहा है । महिला संरक्षण अधिनियम के माध्यम से महिलाओं पर होने किसी भी तरह के अत्याचार पर कानून की मदद ली जा सकती है। उक्त अधिनियम के तहत महिलाओं पर हो रहे अत्याचार की शिकायत पुलिस, मजिस्ट्रेट,संरक्षण अधिकारी,सेवा प्रदाता के यहां दर्ज कराई जाती है। कार्यशाला में वक्ताओं ने बताया कि घरेलू हिंसा में मारपीट से लेकर आर्थिक अत्याचार,मानसिक दबाव,मौखिक प्रताड़ना आदि शामिल है। खण्ड विकास अधिकारी निर्मला जोशी ने कहा आज भी अधिकाशं महिलांए घरेलू हिंसा को सह रही हैं। जिसका अप्रत्यक्ष रूप से सबसे बड़ा प्रभाव बच्चों पर भी पड़ता है। ऐसे में प्रभावित बच्चे असुरक्षित व डरा हुआ महसूस करते हैं। उन्होंने महिलाओं से अपने अधिकारों के प्रति जागरूक व सजग रहने का आह्वान करते हुए गुणवत्तापरक महिला शिक्षा पर जोर दिया। इस मौके पर ब्लाक प्रमुख रूपा देवी बीडीओ निर्मला जोशी रेनू मर्तोलिया बसन्ती गड़िया जया पांडे ग्राम प्रधान ललित सनवाल हरीश बिरखानी रुक्मणि नेगी रमा मेहता आनन्द सिंह मेहता क्षेत्रपंचायत सदस्य मनोज रावत भुवन प्रसाद इला आर्या मीना आर्या समेत तमाम लोग मौजूद थे।कार्यक्रम का संचालन सरोजनी जोशी द्वारा किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *